अधिवक्‍ताओं का विरोध

जमानियां समाचार ११ अक्टू. २०१७

जमानियां। स्‍थानीय तहसील में बुधवार को अधिवक्‍ताओं एवं स्टांप वेण्डो ने जूलूस निकाल कर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किया गया ऑन लाईन रजिस्‍ट्री का विरोध किया और जम कर नारे बाजी की। अधिवक्ताओं ने नायब तहसीलदार और सब रजिस्ट्रार के माध्‍यम से मुख्‍यमंत्री को 6 सुत्रिय मांग पत्रक सौंपा ।

स्टाम्प एवं निबंधन विभाग ने ऑनलाइन रजिस्ट्री की शुरुआत के साथ ही अधिवक्‍ताओं का विरोध शुरू हो गया है। बुधवार को तहसील में मौजूद अधिवक्‍ताओं एवं स्टांप वेण्डरो ने जूलूस निकाल कर तहसील का भ्रमण किया और सब रजिस्ट्रार कार्यालय के सामने जम कर धरना प्रर्दशन किया।  इस दौरान अधिवक्‍ताओं ने कहा कि तहसील से रजिस्‍ट्री ऑन लाईन हो जाने से कई लोगो के सामने जीविकोपार्जन की समस्‍या उत्‍पन्‍न हो जाएगी। क्षेत्र अभी डिजिटल नही हुआ है और इस प्रकार का कार्य लोगो को परेशान करने वाला है। वही बार केेेे अध्यक्ष गोरख नाथ सिंह ने कहा कि अधिवक्ताओं की मांग है कि ऑन  लाईन ई-स्टाम्पिंग एवं रजिस्ट्रेशन को समाप्त किया जाए और पूर्व के भांति रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था लागू की जाए। वही उन्होने कहा कि नये अधिवक्ताओं को प्रोत्साहन राशि दिलाई जाये, बृध्‍द अधिवक्ताओं के लिए पेंशन व्यवस्था लागू करना, न्यायालय परिसर में सीसीटीवी कैमरा स्थापीत करना आदि 6 सूत्रिय मांग है। जिसको लेकर तहसील के अधिवक्ता एवं स्टाम्प वेंडर एक जुट है । उन्होने कहा कि सरकार के इस फैसले से तहसील के वेंडर सहित अधिवक्‍ताओं की रोजी पर असर पड़ेगा। धरना के बाद अधिवक्ताओं और स्टाम्प वेंडरो ने सब रजिस्ट्रार अनुपम पाण्डेयेेे तथा नायब तहसीलदार हर्ष नरायण मौर्य के माध्यम से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा। उक्‍त मौके पर सचिव उदयनरायण सिंह, संयज दूबे, कमल कान्‍त राय, मेराज हसन, सुरेन्‍द्र प्रसाद, राम जी राम, अंजनी, ज्ञान सागर , लखेश्‍वर, फैैसल होदा, अशोक गुप्‍ता, रमेश यादव, युराज तिवारी, पुन्ना लाल श्रीवास्तव  आदि मौजूद रहे। 

विज्ञापन

विज्ञापन

विज्ञापन

विज्ञापन


हमसे जुडें

खबरो को लगातार पढने के लिए नीचे अपना ईमेल पता दर्ज करें।

कनेक्ट करें और अनुसरण करें